अगर बुखार हुआ तो शाम को आखिर में ही वोट डाल पाएंगे; राजनीतिक दल, वोटर्स और चुनाव कर्मचारियों के लिए स्लाइड में समझिए गाइडलाइन

मध्य प्रदेश में 28 सीटों पर 3 नवंबर को उपचुनाव में मतदान होगा। 10 नवंबर को नतीजे आएंगे। कोरोना महामारी के दौर में चुनाव बड़ी चुनौती है। इसके चलते चुनाव प्रचार से लेकर वोटिंग और काउंटिंग तक पहले के चुनावों से काफी अलग होगी।

कोरोना के चलते इस उप चुनाव में बड़ी-बड़ी रैलियां, रोड शो, नेताओं का भीड़ के साथ घर-घर जाकर प्रचार करना नहीं होगा। पोलिंग बूथ पर भी वोटरों की लंबी-लंबी लाइनें नहीं दिखेंगी, क्योंकि इस बार एक पोलिंग बूथ पर 1500 की बजाय 1000 वोटरों को ही बुलाया जाएगा और यहां भी सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखनी होगी।

चुनाव आयोग ने कुछ गाइडलाइंस भी जारी की हैं। 7 ग्राफिक्स के जरिए हम समझते हैं कि कोरोना को लेकर क्या गाइडलाइंस हैं। इन ग्राफिक्स को आप अपने दोस्तों के साथ भी साझा कर सकते हैं, ताकि उन्हें भी पता चले कि कोरोना के दौर में होने वाले इस चुनाव में किन-किन बातों का ध्यान रखना जरूरी है।

इन ग्राफिक्स को आप अपने दोस्तों के साथ भी साझा कर सकते हैं, ताकि उन्हें भी पता चले कि कोरोना के दौर में होने वाले इस चुनाव में किन-किन बातों का ध्यान रखना जरूरी है।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

Madhya Pradesh (MP) By-Election 2020/ECI Coronavirus COVID Guidelines: All You Need To Know In Simple Words

Related Posts