अब दिग्विजय सिंह का सौदेबाजी का ऑडियो वायरल; सपा प्रत्याशी रोशन मिर्जा ने कहा- मुझे नाम वापस लेने के लिए कांग्रेस ने लालच दिया

मध्य प्रदेश में उपचुनाव से पहले सियासत चरम पर है। भाजपा और कांग्रेस के नेताओं की एक दूसरे के खिलाफ बयानबाजी के बीच अब एक ऑडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है। इसमें दिग्विजय सिंह ग्वालियर से सपा उम्मीदवार रोशन मिर्जा से बातचीत कर रहे हैं। इसमें दिग्विजय सिंह मिर्जा के चुनाव लड़ने का फायदा भाजपा को होने की बात कहते सुना जा सकता है। इसमें दिग्विजय रोशन को नाम वापस लेने के लिए कह रहे हैं।

वायरल ऑडियो के सामने आने के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा- जो हम पर आरोप लगाते हैं उनके आरोप प्रमाणित हो रहे हैं। ऑडियो में पैसे के ऑफर दिए जा रहे हैं, अब कौन ख़रीद-फरोख्त करता है ये स्पष्ट हो गया है।

ऑडियो की पुष्टि करते हुए सपा प्रत्याशी रोशन मिर्जा ने कहा कि मुझे दिग्विजय सिंह का फोन आया था। उन्होंने कहा कि ‘आप चुनाव क्यों लड़ रहे हैं? आपको चुनाव लड़ना तो आता नहीं है। देख रहे हैं कि भाजपा और कांग्रेस किस कंडीशन में चुनाव लड़ रहे हैं। अपनी बात कहने का सबको अधिकार है। चुनाव तो कोई भी लड़ सकता है। आजाद भारत में तो कोई भी चुनाव लड़ सकता है। हम भी पार्टी से लड़ रहे हैं।

इस पर दिग्विजय सिंह ने कहा कि आप चुनाव मत लड़ो, नाम वापस ले लो। पार्षद का टिकट हम देंगे, हमने कहा कि पार्षद के टिकट की कोई बात नहीं है। हम सुनील शर्मा के पास गए थे, उन्होंने भी मना कर दिया कि टिकट नहीं देंगे। इस पर दिग्विजय सिंह ने कहा कि उनसे मिल लो। इसके बाद लालच भी दिया। टिकट देने की बात थी और दूसरे नेताओं ने कहा कि 10 लाख रुपए दे देंगे।’

रोशन मिर्जा ने कहा कि नाम वापस नहीं ले ही सकते हैं क्योंकि हमारे समाज के जो लोग हैं, उनकी गिनती कहीं नहीं होती है। जितने भी वोट आएं, हम अपनी बात तो रख सकते हैं। जब हमने उनसे लालच नहीं लिया तो दिग्विजय सिंह ने छोटे नेताओं को आगे कर दिया और तोहमत लगानी शुरू कर दी कि आप भाजपा का सपोर्ट करने के लिए चुनाव लड़ रहे हैं। कोई कुछ कहे, हम तो पूरी ताकत से चुनाव लड़ेंगे।’

ऑडियो में दिग्विजय और मिर्जा के बीच बातचीत…

जानकारी के मुताबिक, जो ऑडियो वायरल हो रहा है उसमें दिग्विजय सिंह ग्वालियर से सपा के उम्मीदवार रोशन मिर्जा से बातचीत कर रहे हैं। इसमें दिग्विजय सिंह कहते हैं, ‘अरे तुम काहे चुनाव लड़ रहे हो, भाजपा को जिताने के लिए। मिर्जा कहते हैं कि हम अपने लिए चुनाव लड़ रहे हैं। भाजपा क्यों जिताएंगे हम? दिग्विजय कहते हैं, ‘तुम जान रहे हो, चुनाव कहां होता है कैसा होता है। बात मानो, नाम वापस ले लो बैठ जाओ। बाकी तुम्हारा ध्यान हम रखेंगे। आकर मिल लेना, लेकिन अभी नाम वापस लो। जाकर मिल लो देवेंद्र से। काहे के लिए चुनाव लड़ रहे हो, देख रहे हो किस हालत में चुनाव लड़ रहे हैं। तुम क्यों इसमें पड़ रहे हो। सुनील शर्मा से नाराजगी है।’

इस पर रोशन मिर्जा कहते हैं कि, ‘मैं सुनील शर्मा जी के पास गया था, मेरी पार्षदी की तैयारी चल रही थी। इस पर दिग्विजय सिंह कहते हैं कि पार्षदी हम तुम्हें लड़ा देंगे। इस पर रोशन कहते हैं कि महाराज मेरी बात तो सुनिए। टोकते हुए दिग्विजय सिंह कहते हैं, ‘महाराज-वहराज मैं नहीं हूं, वो सिंधिया हैं। मैं दिग्विजय सिंह हूं।’ फिर रोशन कहते हैं कि मुझे टिकट देने से मना कर दिया है। इस पर दिग्विजय कहते हैं कि छोड़ो तुम तो अभी बैठ जाओ, फिर मेरे से आकर मिल लेना।’ रोशन मिर्जा उपचुनाव में ग्वालियर विधानसभा सीट से समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार हैं। उन्होंने अपनी उम्मीदवारी वापस नहीं ली है।

ऑडियो पार्टी हाईकमान को भेजा
बातचीत का यह वायरल ऑडियो समाजवादी पार्टी के प्रमुख नेताओं तक भी भेजा गया है। इसके अलावा सपा के नेता इस बात पर विचार विमर्श कर रहे हैं कि इस संबंध में आगे की कार्रवाई क्या की जाए। वरिष्ठ नेताओं से चर्चा के बाद मामले की शिकायत चुनाव आयोग से भी की जा सकती है। हालांकि इसको लेकर सपा की ओर अब तक स्थिति स्पष्ट नहीं की गई है।

कम से कम हम विधायक तो नहीं खरीद रहे: कांग्रेस
कांग्रेस के प्रवक्ता केके मिश्रा ने कहा है कि किसी को उम्मीदवारी वापस लेने के लिए कहना असभ्य आचरण नहीं है। यदि हम किसी से अनुरोध या हमारे पक्ष में आने को कर रहे हैं, तो यह कोई अपराध नहीं है। उन्होंने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि कम से कम, हम दूसरों की तरह विधायक नहीं खरीद रहे हैं। दिग्विजय सिंह के बारे में जो भी कहा जा रहा है वह पूरी तरह से गलत है।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह का ग्वालियर के सपा प्रत्याशी के साथ हुई बातचीत का एक ऑडियो वायरल हो रहा है।

Related Posts