इंदौर में पल्सर से आए बदमाश ने पहले चुराई कार, दूसरी बार बाइक से आया तो पल्सर ले गया, तीसरी बार पैदल आकर बाइक ले गया

पल्सर से आए एक बदमाश ने टोरी कार्नर के पास खड़ी एक कार को चुराया। थोड़ी देर बाद वही बदमाश एक बाइक लेकर आया। उसने इस बार बाइक खड़ी की और पल्सर ले गया। अगली बार पैदल आया औऱ बाइक चुराकर ले गया। सूचना के बाद पुलिस चौंकी की आखिर चोरी कैसे हो गई। फिर एसआई ने कार जाने वाली दिशा खंगाली, आखिर में वह फुटेज देखते-देखते कुशवाह नगर पहुंचा, जहां कार लावारिस हालत में खड़ी मिली।

मल्हारगंज पुलिस के अनुसार कार चोरी की वारदात 8 नवंबर की रात 12.30 बजे से 2 बजे के बीच हुई थी। फरियादी 50 साल के भीकम चन्द सोनी पिता गणेशमल निवासी श्रृष्टि अपार्टमेंट टोरी कार्नर ने चोरी का केस दर्ज करवाया था। फरियादी ने पुलिस को बताया कि उनकी कार मल्टी के नीचे खड़ी हुई थी। अगले दिन कार नहीं मिली। फिर सीसीटीवी कैमरे खंगाले। उसमें देखा कि पल्सर से आए एक बदमाश ने कार चुराई है। पहले वह पल्सर से आया। फिर वह कार के पास खड़ा रहा। उसने गेट को खोला। फिर ड्रामा करते हुए कार में बैठा, जैसे कार उसी की हो। उसके बाद वह कार लेकर चला गया।

काफी देर बाद वह बदमाश फिर एक बाइक लेकर आया। इस बार उसने बाइक खड़ी की और अपनी पल्सर लेकर चला गया। जब फुटेज को और देर तक देखा तो वह बदमाश लड़खड़ाते हुए आया, जैसे उसने नशा कर रखा हो। उसने लड़खड़ाने की स्टाइल में बाइक उठाई और उसे भी लेकर चला गया। अगले दिन बाद पुलिस के लिए यह घटना सिर दर्द बन गई। सुबह जांच एसआई भगवान सिंह पटेल को मिली। एसआई औऱ फऱियादी ने बदमाश की तीनों बार की घटनाओं को रिकॉल कर रही है।

आरोपी के हुलिए और चलने की स्टाइल को देखा। उसके बाद तय किया कि कार जिस दिशा में गई उसी दिशा में चला जाए। धीरे-धीरे एसआई अपनी टीम के साथ सीसीटीवी कैमरे देखते रहे। आखिर में वे कुशवाह नगर में राजा के बगीचे के बाद सरस्वती स्कूल पहुंचे। वहां सामने खाली मैदान में कार खड़ी मिल गई। उसे एसआई ने जब्त कर थाने में खड़ी कर दी। अब पुलिस आरोपी को तलाश रही है। शंका है कि बदमाश उसी क्षेत्र का रहने वाला है। एक दो दिन में वह कार को ठिकाने लगा सकता था।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

पुलिस को कुशवाह नगर में राजा के बगीचे के बाद सरस्वती स्कूल के आगे खाली मैदान में कार खड़ी मिली।

Related Posts