कमलनाथ की अगुवाई वाले प्रदर्शन में खड़े रह गए ट्रैक्टर; हाथों में प्रतीकात्मक ट्रैक्टर लेकर कांग्रेसियों ने दिया मौन धरना

कांग्रेस के स्थापना दिवस पर भोपाल समेत प्रदेश भर में कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। भोपाल में आयोजित मौन धरने के दौरान पीसीसी चीफ कमलनाथ ने कहा कि मौजूदा समय में बहुत सी पार्टियां राष्ट्रवाद की बात करती हैं, लेकिन उनके यहां पर एक भी स्वतंत्रता सेनानी नही दिखता। ये तो सिर्फ कांग्रेस में दिखते हैं। कांग्रेस ने सोमवार दोपहर भोपाल में विधानसभा परिसर स्थित गांधी प्रतिमा के सामने मौन धरना दिया। इस दौरान कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने हाथों प्रतीकात्मक रूप से हाथों में ट्रैक्टर लिए हुए थे।

कमलनाथ ने विधानसभा सत्र नहीं होने को दुखद बताया।

आज से किसान तिरंगा संघर्ष यात्रा शुरू

कांग्रेस ने आज से किसान तिरंगा संघर्ष यात्रा शुरू कर दी। इसे सेवादल निकाल रहा है। यह 15 जनवरी तक चलेगी। किसान तिरंगा संघर्ष यात्रा 7 भागों में निकाली जाएगी। प्रत्येक जिले से मिट्टी, अनाज लेकर सेवा दल के कार्यकर्ता 15 जनवरी को भोपाल लौटेंगे। कांग्रेस के स्थापना दिवस के अवसर पर मंच पर कमलनाथ, कांतिलाल भूरिया, अरुण यादव, सज्जन वर्मा, गोविंद सिंह, रामनिवास रावत और पीसी शर्मा मौजूद रहे।

कांग्रेस नेताओं ने सरकार को घेरने के लिए जोरदार तैयारी की थी, लेकिन कमलनाथ के मौन धरने का ऐलान करने के बाद तैयारी धरी की धरी रह गई। कांग्रेस नेताओं ने विधानसभा घेरने के लिए बंगले में ट्रैक्टर भी तैयार करवा लिए थे।

कमलनाथ ने कहा कि देश को अलग अलग देवी देवताओं में बांट दिया जाएगा। दिल्ली में महीनों से किसान धरना दे रहे है। किसान न्याय चाह रहे हैं और उन्हें उद्योगपतियों का गुलाम बनाया जा रहा है। कमलनाथ ने घोषणा की कि हमारा झंडा मंत्रालय में लहराएगा। अब देश में अंबानी और अडानी की मंडी होगी। इंदिरा गांधी ने समर्थन मूल्य की घोषणा की थी। वह भी कांग्रेस की देन है, जो किसान से टकराएगा मिट्टी में मिल जाएगा।

किसानों के समर्थन में कांग्रेस ने किसान तिरंगा संघर्ष यात्रा शुरू की है।

विधानसभा नहीं चलना दुख की बात

विधानसभा विपक्ष के लिए होता है। ऐसे में विधानसभा नहीं चलना दुख की बात है। हमने सरकार से अपनी मांग रखी थी, जिसे उन्होंने मान लिया है। समितियां बनाई जाएंगी। उसके माध्यम से काम किया जाएगा। विधानसभा सत्र 28 दिसंबर से 31 दिसंबर तक था, लेकिन उसे कोरोना के चलते रद्द कर दिया।

मौन धरना

केंद्र की मोदी सरकार द्वारा थोपे गए तीन किसान विरोधी काले कानूनों के विरोध में और किसान आंदोलन के समर्थन में आज मध्यप्रदेश कांग्रेस विधायक दल ने नेता प्रतिपक्ष कमलनाथ के नेतृत्व में विधानसभा परिसर स्थित गांधी प्रतिमा के समक्ष सांकेतिक मौन धरना दिया। धरने के पूर्व नेता प्रतिपक्ष नाथ ने महात्मा गांधी की प्रतिमा के समक्ष माल्यार्पण कर उन्हें नमन किया। इस मौन धरने के दौरान कांग्रेस विधायकों ने हाथों में ट्रैक्टर के पुतले ले रखे थे। नाथ ने कहा कि किसानों के समर्थन में कांग्रेस का आंदोलन सतत जारी रहेगा। कांग्रेस किसानों के हर संघर्ष में उनके साथ है।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

कमलनाथ समेत कांग्रेस नेताओं ने भोपाल में विधानसभा परिसर स्थित गांधी प्रतिमा के सामने मौन धरना दिया।

Related Posts