कांग्रेस बोली – भाजपा नोट से वोट खरीदकर चुनाव लड़ना चाहती है, भाजपा का पलटवार – सच्चाई सामने आने के लिए 15 मिनट ताे रुक जाते, इतनी जल्दी क्या थी

अरविंदाे अस्पताल के पास से बुधवार सुबह इंदौर से सांवेर की ओर जा रही कार की तलाशी लेने पर करीब 51 लाख रुपए नकद मिलने के बाद शहर की राजनीति में उबार आ गया है। प्रारंभिक ताैर पर कार सवार खुद काे इटारसी का ज्वेलर बताते हुए इंदाैर में माल का पेमेंट देने आने की बात कह रहे हैं। लेकिन कांग्रेस ने इन रुपयों काे भाजपा प्रत्याशी का हाेना बता दिया। उनका आरोप था कि भाजपा नोट से वोट खरीदकर चुनाव लड़ना चाहती है। इसके बाद भाजपा ने भी पलटवार किया और कहा कि 15 मिनट ताे रुक जाते, सच्चाई सामने आ जाती। इतनी जल्दी क्या थी।

पुलिस ने सुबह सांवेर की ओर कार से जाते समय रोका था।

मिली जानकारी अनुसार पुलिस द्वारा 50 लाख रुपए ज्यादा बरामद करने की जानकारी मिलते ही सांवेर से कांग्रेस प्रत्याशी प्रेमचंद गुड्‌डू ने डीआईजी को कॉल कर आरोप लगाया कि पकड़ाई राशि से भाजपा की पोल खुल गई है। वह नोट से वोट खरीदकर चुनाव लड़ना चाहती है। पुलिस निष्पक्ष जांच करने के साथ ही नोटों के सौदागरों के नाम भी सार्वजनिक करे।

वहीं, कांग्रेस नेता नरेंद्र सलूजा ने ट्वीट के जरिए भाजपा पर निशाना साधा। उन्होंने लिखा कि गद्दाराें के क्षेत्र में कहीं नोट, कहीं साड़ी, कहीं कलश बंट रहे हैं। अब इंदौर पुलिस ने चेकिंग के दौरान सांवेर रोड पर एक कार रोकी, जिसमें 50 लाख रुपए नकद मिलने की जानकारी सामने आई…. पहले सौदे से सरकार गिराई, अब उसी सौदे की राशि से जनादेश खरीदने की तैयारी….

कांग्रेसियों के बयान पर भाजपा ने भी पलटवार किया। प्रवक्ता उमेश शर्मा ने वीडियो जारी कर कहा कि प्रेमचंद गुड्डू जी मैं शुरू दिन से ही कह रहा हूं कि आप इस चुनाव को बहुत ही लपकबाजी के साथ लड़ रहे हैं। जरा सा कोई घटनाक्रम घटा तो आप उसे राजनीतिक रंग देने की कोशिश करते हैं। आप उसे तूल पकडा़ने का प्रयास करते हैं। अभी जो 50 लाख 90 हजार रुपए कार से मिले हैं, उस मामले में बयान जारी करने से पहले 10-15 मिनट तो धीरज धर लेते। आपने इंदौर डीआईजी से बात की, उन्होंने वास्तविकता भी आपको बताई कि किसी मोहन सोनी का रुपया है जो सराफा में ले जाया जा रहा था।

भाजपा प्रवक्ता उमेश शर्मा ने वीडियो जारी कर पलटवार किया।

शर्मा ने कहा कि इसके बाद भी आपने राजनीतिक आरोप चस्पा कर दिया कि यह रुपया भाजपा प्रत्याशी के पक्ष में लाया जा रहा था। इस प्रकार के झूठे आरोप आपकी राजनीतिक गरिमा को गिराते हैं। यह आपकी विश्वसनीयता और आपकी साख पर भी संकट खड़ा करते हैं। हालांकि आपको अपनी विश्वसनीयता और साख की चिंता कभी रही नहीं है। आप इन सभी को दांव पर लगाकर हथकंडे बाजी से चुनाव लड़ना चाहते हैं। हमने तो आप पर आरोप नहीं लगाया कि वह रुपया आपका है। राजनीति में थोड़ा ऊंचा बनने का प्रयास कीजिए।

पुलिस को कार से 50 लाख 90 हजार रुपए कैश मिले।

यह है मामला
पुलिस के अनुसार अरविंदो के पास पुलिस की स्पेशल टीम चेकिंग कर रही थी। सुबह करीब 9 बजे इंदौर से सांवेर की ओर जा रही कार एमपी 05 सीबी 3157 की टीम ने चेकिंग के लिए रोका। पुलिस को देखकर कार सवार थोड़ा झिझका। टीम को शक हुआ और उन्होंने कार की तलाशी ली तो कार के भीतर बैग में बड़ी मात्रा में कैश रखा हुआ था। पुलिस कार सवार को सीधे बाणगंगा थाने ले गई और यहां पर राशि की गिनती की गई तो रकम 50 लाख 90 हजार रुपए निकली। पुलिस के अनुसार कार सवार ने अपना नाम मोहनलाल सोनी निवासी इटारसी होना बताया है। उन्होंने प्रारंभिक पूछताछ में बताया कि वे ज्वेलर हैं और इंदौर में एक ज्वेलर को पेमेंट देने आए थे। जांच के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। हम अभी सांवेर चुनाव से इसे नहीं जोड़ सकते, लेकिन जांच के बाद ही कुछ कहा जाएगा।

रुपए इटारसी के व्यापारी के हैं, उनका कहना है कि वे यहां पेमेंट करने आए हुए थे।

वहीं, मोहनलाल सोनी ने बताया कि वे इटारसी में ज्वेलरी शॉप है। वे इंदौर में व्यापारी को देने रुपए लेकर आए थे। जिन्हें रुपए देने हैं, उनका नाम पता सबको नहीं बताया जा सकता। हम तीन भाई हैं, तीनों की शॉप है, माल की पेमेंट करने यहां आए थे। हमारे पास सब सबूत हैं। बड़ी रकम लेकर चलना सही नहीं है, लेकिन कई बार कैश में भी काम करना पड़ता है। आजकल 50 लाख रुपए क्या मायने रखते हैं। मैं उज्जैन नहाने जा रहा था। लौटकर इंदौर में पेमेंट करना था।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

सांवेर में मंत्री तुलसी सिलावट और कांग्रेस प्रत्याशी प्रेमचंद गुड्‌डू के बीच सीधा मुकाबला है।

Related Posts