खुद का आशियाना बनाने 23 लाख में खरीदा प्लाॅट, मौके पर पहुंचा तो दिखा दूसरे का बोर्ड, बेचने वाली महिला भी बनाने लगी बहाने

खुद के पास कब्जा नहीं होने और किसी दूसरे को प्लाट बेचे जाने की जानकारी के बाद भी एक महिला ने अपने दलाल साथी के साथ मिलकर एक व्यक्ति को प्लाॅट बेच दिया। जब खरीदार प्लाॅट लेने पहुंचा तो पता चला कि वह तो किसी और के पास है। आखिरकार उसने पुलिस में शिकायत की और अब केस दर्ज हो गया है।

बाणगंगा पुलिस ने कैलाशपुरी निवासी रमेश जोशी की शिकायत पर विजय नगर निवासी विनीता कुलकर्णी और उसके साथी लक्षण गायकवाड़ निवासी मंगल नगर के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज किया है। रमेश ने बताया कि उन्हें विनीता और लक्षण ने कालिंदी गोल्ड सिटी में 1100 स्क्वेयर फीट का प्लाॅट अपना बताते हुए दिखाया था। फिर उससे रजिस्ट्री सहित 22.85 लाख रुपए ले लिए। जबकि यह रजिस्ट्री फर्जी हुई थी।

यह प्लाॅट असल में नकुल कपासी के पास था, जिसने अमित जायसवाल नामक व्यक्ति को बेच दिया था। जब रमेश जोशी प्लाॅट देखने पहुंचे तो वहां अमित का बोर्ड लगा था। अमित से संपर्क किया तो उसने अपने दस्तावेज बताए। आखिर विनीता और उसके साथी से संपर्क किया तो वे टालने लगे और फिर फोन उठाना ही बंद कर दिया। आखिर में पुलिस ने जांच के बाद केस दर्ज किया है।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

ndore Plot Fraud Update; Police Registered Case Against Broker And Woman

Related Posts