गाड़ी टकराने की बात पर कार सवार युवकों पर जानलेवा हमला, गुस्साए दो भाइयों ने युवकों को चाकू से गोद दिया, एक ने इलाज के दौरान दम तोड़ा

हीरा नगर थाना क्षेत्र के सुखलिया में बदमाशाें ने दाे युवकाें काे चाकू से गाेद दिया। हमले में देर रात एक की अस्पताल में इलाज के दाैरान माैत हाे गई, जबकि दूसरे की हालत नाजुक है। बदमाशों ने कार सवार दो युवकों पर गाड़ी टकराने की बात को लेकर धारदार हथियार से हमला किया था। सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने गंभीर अवस्था में घायल दोनों युवकों को उपचार के लिए एमवाय अस्पताल में भर्ती कराया।

दरअसल मामला देर रात हीरा नगर थाना क्षेत्र के सुखलिया स्थित डीएम सेक्टर में अपनी कार से घर जा रहे योगेश और आशुतोष का गाड़ी टकराने की बात पर विवाद हुआ आपसी कहासुनी के चलते बदमाशों ने धारदार हथियारों से दोनों पर जानलेवा हमला बोल दिया और मौके से फरार हो गए घटना की सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने गंभीर घायल अवस्था में दोनों युवकों को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया। पुलिस ने प्रकरण पंजीबद्ध का आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।

जांच अधिकारी जगदीश मालवीय के अनुसार घटना रात करीब 11 बजे हीरानगर थाना क्षेत्र के सुखिलया इलाके में डीएम और सीएम सेक्टर में हुई। थाने पर सूचना मिली थी कि सुखलिया के डीएम और सीएम वाली गली में विवाद हुआ है। सूचना के बाद मौके पर पहुंचे तो वहां पर सड़क पर खून फैला हुआ है। पूछताछ करने पर पता चला कि घायल अपने गाड़ी से बापट चौराहे तक गए हैं। बापट पर अस्पताल जाने के लिए उतरे तो वहीं गिर गए। इस पर किसी ने पास के ही निजी अस्पताल में सूचना दी दो युवक खून से लथपथ यहां पड़े हैं। इस पर अस्पताल वालों ने एंबुलेंस भेजी और उन्हें एमवाय अस्पताल भिजवाया। इनके साथ आए युवक ने बताया कि इनका नाम आशुतोष परमार और योगेश नरवरिया हैं। प्रारंभिक जांच में मामला रंजिश का लग रहा है।

गाड़ी टकराने की बात पर हुआ विवाद
पुलिस परिचित अमित की शिकायत पर रोहित और उसके भाई राहुल के खिलाफ केस दर्ज किया है। जानकारी अनुसार आशुतोष परमार निवासी सुखलिया और योगेश नरवरिया निवासी श्याम नगर अमित से सुखलिया क्षेत्र में मिले। यहां से तीनों किसी काम से जा रहे थे। अमित बाइक से था, जबकि अन्य दोनों कार से थे। डीएम सेक्टर में पहुंचने पर रास्ते से हटने की बात को लेकर आशुतोष और राहुल का एक दंपती से विवाद हो गया और वे दोनों उन्हें गालियां देने लगे। इस दौरान राहुल और उसका भाई रोहित आया और गालियां देने से मना किया। विवाद इतना बड़ा कि नौबत मारपीट तक जा पहुंची। इसके बाद गुस्साए दोनों भाइयों ने आशुतोष और योगेश पर चाकू से जानलेवा हमला कर दिया। अमित उन्हें वहां से बचाकर बापट चौराहे तक ले आया। यहां से एंबुलेंस से दोनों को एमवाय अस्पताल में पहुंचाया गया, जहां देर रात आशुतोष ने दम तोड़ दिया, जबकि योगेश की हालत गंभीर बनी हुई है।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

घायल योगेश की हालत भी गंभीर बताई जा रही है।

Related Posts