गैस त्रासदी पीड़िताओं का दर्द पहुंचा सरकार तक, CM शिवराज का ऐलान- आपको ताउम्र दूंगा एक हजार रुपए की पेंशन

भोपाल गैस पीड़ित कल्याणी बहनों को एक हजार रुपए पेंशन फिर से शुरू की जाएगी और ये ये आजीवन दी जाएगी। इसकी घोषणा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने की। वे गुरुवार को गैस त्रासदी की 36वीं बरसी पर पीड़ितों को श्रद्धांजलि देने पहुंचे थे। इस मुद्दे को दैनिक भास्कर ने त्रासदी की बरसी की पूर्व संध्या पर प्रमुखता से उठाया था। इस संबंध में गैस राहत एवं पुनर्वास मंत्री विश्वास सारंग से बात भी की थी, लेकिन उन्होंने इससे इनकार कर दिया था। अब सीएम की घोषणा के बाद 4650 महिलाओं की पेंशन फिर शुरू कर दी जाएगी।

गैस राहत काॅलोनी से रिपोर्ट:त्रासदी ने परिवार और सरकार ने पेंशन छीनी; भूख मिटाने के लिए विधवाओं को खाना मांगना पड़ रहा

गैस पीड़ितों को नमन करते CM शिवराज।

मुख्यमंत्री शिवराज ने कहा कि ‘हमारी जिन कल्याणी बहनों की एक हजार रुपए पेंशन 2019 में बंद हो गई थी, उनकी पेंशन फिर से चालू करने का फैसला किया है। ये उनके साथ न्याय नहीं था। उनका इस त्रासदी में सब कुछ लुट गया था, उन्हें आजीवन पेंशन दी जाएगी। भगवान उन्हें लंबी उम्र दे।’

सर्व धर्म सभा में मौन रखकर गैस पीड़ितों को श्रद्धांजलि दी गई।

भोपाल में बनेगा गैस पीड़ितों की याद में स्मारक
CM ने कहा कि ‘फिर कोई शहर भोपाल न बने, आज यह संकल्प लेने का अवसर है। विकास के साथ पर्यावरण की रक्षा का भी हम प्रण लें, तभी यह संभव होगा। भोपाल में गैस त्रासदी का स्मारक बनाया जाएगा, जो संकल्प पैदा करे कि फिर ऐसी गैस त्रासदी दुनिया में कहीं न हो। हमारे भाई-बहन जो 2 और 3 दिसंबर की दरमियानी रात इस त्रासदी के कारण नहीं रहे, मैं उनके चरणों में श्रद्धा के सुमन अर्पित करता हूं।’

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भाेपाल गैस त्रासदी की शिकार विधवा महिलाओं की 1 हजार रुपए पेंशन फिर से देने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि ये आजीवन दी जाएगी।

Related Posts