चार बच्चों की मां से युवक कर बैठा प्यार, कंगाल होने पर भी महिला ब्लैकमेल करती रही तो फांसी लगाकर जान दी

कुंदन नगर में रहने वाले 22 साल के एक युवक ने अपने कमरे में फांसी लगाकर जान दे दी। परिजन का आऱोप है कि चार बच्चों की 33 वर्षीय मां से परेशान होकर उसने फांसी लगाई है। महिला ने उसे प्रेम जाल में फांसा, फिर लिव इन रिलेशन में रही। इस दौरान उसने युवक से लाखों रुपए ऐंठ लिए। युवक ने लोगों से कर्जा ले लिया। बाद में जब युवक कंगाल हो गया तो वह दुष्कर्म में फंसाने का बोलकर ब्लैकमेल करने लगी।

द‌ारकापुरी पुलिस के अनुसार कुंदन नगर में रहने वाले 22 वर्षीय शरद पिता महेश जायसवाल ने फांसी लगाकर जान दे दी। भाई मनीष जायसवाल ने बताया कि शाम को मां किचन में और बहन बाहर थी तभी शरद ने कमरे में जाकर फांसी लगा ली। उसे तत्काल उतारकर जिला अस्पताल लाए जहां डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया। मनीष ने पुलिस को बताया कि शरद ई-रिक्शा चलाता था और उसकी एजेंटी भी चलती है। वह 25-30 हजार रुपए महीने कमाता था।

8 महीने पहले विदुर नगर में रहने वाली एक महिला रिक्शा में बैठने के दौरान उससे संपर्क में आई, फिर उसने उसे प्रेम जाल में फंसाया। महिला के चार बच्चे थे। महिला शरद के साथ लिव इन में रहने लगी। यह बात उसके पति को भी पता थी। डेढ़ महीने महिला शरद के साथ रही। इस दौरान शरद के महाराष्ट्र में रहने वाले दादा की किराना दुकान से भी डेढ़ लाख रुपए ले आई। फिर महिला अपने पति के पास चली गई। कुछ समय बाद फिर लौटी और फिर से शरद को झांसे में लिया। आखिर महिला ने फिर रुपए के लिए शरद पर दबाव बनाया। शरद ने लोगों से 5 लाख रुपए कर्ज लिया। कुछ दिन बाद महिला फिर पति के पास आ गई। शरद को बोलकर गई कि मेरा तलाक करवा दो। तीसरी बार फिर शरद से मिली औऱ तलाक के नाम पर 50 हजार रुपए छीन लिए। जब शरद कंगाल हो गया तो महिला ने उसे धमकाना शुरू कर दिया। कहा कि यदि रुपए नहीं दिए तो दुष्कर्म के मामले में फंसा दूंगी। फिर उसे ब्लैकमेल करने लगी। आखिर शरद ने तंग आकर फांसी लगा ली।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

द‌ारकापुरी पुलिस परिजनों के बयान के आधार पर जांच कर रही है।

Related Posts