तिंछाफॉल घूमने निकले चार युवक-युवतियों की कार नाले में बही, गांव वालो ने चारों को बचाया

इंदौर से सटे तिल्लोर खुर्द एवं तिंछाफॉल के बीच शनिवार को ग्रामीणों की सूझबूझ से बड़ा हादसा टल गया। तिंछाफॉल की तरफ से आ रही एक कार, भारी बारिश के कारण पानी के बहाव में आ गई। बहाव इतना तेज था कि कार बहकर बहुत आगे निकल गई। तभी ग्रामीणों ने हिम्मत दिखाई औऱ पानी वाले हिस्से में पहुंचकर कार में सवार दो युवक और दो युवतियों को बचाया।

दरअसल, समीप स्थित तिल्लोर गांव के लोगों ने मामले में न केवल हिम्मत दिखाई, बल्कि सूझबूझ का भी परिचय दिया। क्योंकि कार में सवार युवक-युवती पानी में फंसे होने के बाद भी गेट नहीं खोल रहे थे। डीएसपी हेड क्वार्टर अजय वाजपेयी का कहना है कि गाड़ी नंबर के आधार पर नाम और पता निकाला जा रहा है।

कार सवारों को नहीं पता था की आगे नाला है

कार चालक काफी देर तक कोशिश करता रहा कि कार बाहर निकल जाए, लेकिन कार नाले में बहने लगी।

मामला कंपेल चौकी के अंतर्गत आता है। जानकारी के अनुसार कार चालक को नहीं पता था कि आगे नाला है। इसके चलते वह काफी देर तक कोशिश करता रहा कि कार बाहर निकल जाए। ग्रामीण काफी देर तक कार चालक को आवाज देकर आगे नाला होने की जानकारी देते रहे। कांच बंद होने के कारण कार चालक को कुछ समझ नहीं आ रहा था।

इसके बाद ग्रामीण बहते पानी में ही कार सवार के पास पहुंचे और सभी को कार से बाहर आने को कहा। इसके बाद दोनों युवक खिड़की से और युवतियां पिछला गेट खोलकर बाहर निकली। बताया जा रहा है चारों तिंछाफॉल घूमने निकले थे। यदि समय रहते ग्रामीण मदद नहीं करते तो चारों कार सहित नाले में बह जाते।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

इस तरह युवक-युवतियों की कार नाले में फंस गई थी, जिसके बाद ग्रामीणों ने उन्हें बाहर निकाला। गेट न खुलने के कारण युवक कांच खोलकर बाहर निकले।

Related Posts