दिग्विजय ने कहा- संघ की विचारधारा को छोड़कर भतीजे तेजस्वी के साथ आएं नीतीश

बिहार चुनाव के नतीजों में इस बार भाजपा सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है। ऐसा पहली बार हुआ है, जब भाजपा को बिहार में इतनी सीटें मिली हैं। इस पर मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने भाजपा पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा है कि भाजपा और संघ अमरबेल की तरह हैं। जिस पेड़ पर लिपट जाती हैं, वह पेड़ सूख जाता है और वह पनप जाती है। भाजपा ने अपनी कूटनीति से नीतीश का कद छोटा कर दिया और रामविलास पासवान की विरासत को समाप्त कर दिया।

दिग्विजय ने कहा कि एक बार फिर असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी ने चुनाव लड़ कर भाजपा की मदद की है। वे बिहार में भाजपा और जदयू की सरकार बनाने में NDA का सहयोग करेंगे या महागठबंधन का? उन्होंने नीतीश को सलाह देते हुए कहा है कि नीतीश और लालू आपने साथ में संघर्ष किया है। संघ की विचारधारा को छोड़ कर तेजस्वी को आशीर्वाद दे दीजिए।

बिहार चुनाव के मंगलवार को आए नतीजों में NDA 125 सीटों के साथ सत्ता बचाने में कामयाब रहा, लेकिन सबसे ज्यादा नुकसान उठाने वाली पार्टी नीतीश कुमार की जदयू ही रही। पिछली बार के मुकाबले जदयू की 28 सीटें घट गईं और वह 43 सीटों पर आ गई। वहीं, भाजपा 21 सीटों के फायदे के साथ 74 सीटों पर पहुंच गई। राजद सबसे बड़ा दल बनकर उभरा, जिसे 75 सीटें मिलीं। उसके नेतृत्व वाले महागठबंधन को 110 सीटें मिलीं।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

दिग्विजय ने कहा कि भाजपा ने अपनी कूटनीति से नीतिश का कद छोटा कर दिया और रामविलास पासवान की विरासत को समाप्त कर दिया। 

Related Posts