पुलिस की लगातार कार्रवाई के दावा के बाद भी खुलेआम ड्रग बेचने वाले सक्रिय

शहर से ड्रग्स को खत्म करने के लिए इंदौर पुलिस द्वारा बड़ी मुहिम चलाई जा रही है। ड्रग्स बेचने वाले और इस्तेमाल करने वाले कई लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार भी किया है। लेकिन इसके बावजूद ड्रग्स पैडलरों पर पुलिस की इस मुहिम का कोई फर्क नहीं पड़ रहा। शहर के अलग-अलग इलाकों से अब भी ड्रग्स बेचे जा रहे हैं।

कैमरे में कैद ड्रग बेचने वाला युवक

ड्रग्स बेचने वाला हर्षित कैमरे में कैद हुआ है। हर्षित रणजीत हनुमान से फूटी कोठी के बीच ड्रग्स सप्लाई करता है। बताया जाता है कि वह महू के अजीत नामक तस्कर के ड्रग्स बेचता है। इसके पास चरस, गांजा, ब्राउन शुगर, एमडीएमए और कोकीन जैसे तमाम ड्रग्स मौजूद रहते हैं। वह एक नामी स्कूल का पुराना छात्र है। वह वहां पर ड्रग्स बेचा करता था, जिसकी जानकारी स्कूल प्रबंधन को लगने के बाद उसे स्कूल से निकाल दिया गया। लेकिन अब भी कई छात्र-छात्राएं उसके संपर्क में है जो उससे ड्रग्स लेते हैं। इसके अलावा कॉलेज की भी कई छात्राएं उसके संपर्क में है जो उससे ड्रग्स लेती है। उसका दावा है की कई बड़े अफसरों की बेटियां भी उस से ड्रग्स ले कर जाती है। उसे एक बार पुलिस पकड़ भी चुकी है, लेकिन बाहर आने के बाद उसने फिर से सतर्कता के साथ ड्रग्स बेचना शुरू कर दिया। वह फोन पर संपर्क कर समय और स्थान तय करने के बाद ही ड्रग्स देने आता है। वह इतना शातिर है कि ड्रग्स देने अपना पूरा चेहरा पैक करके पहुंचा है, जिस व्यक्ति ने इसका स्टिंग किया है, वह इससे कोकीन लेकर आया है, यह 2300 रुपए प्रति पुड़िया के हिसाब से कोकीन बेचता है।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

ड्रग्स की पुड़िया देता युवक।

Related Posts