प्रशासन जागा:कोलार “निर्भया’ केस की जांच एसआईटी करेगी, 34 दिन बाद केस में रेप और जानलेवा हमले की धारा जोड़ी

पीड़िता से घर जाकर मिले कलेक्टर-डीआईजी, कोलार थाना टीआई की लापरवाही मानी,पहले सस्पेंशन ऑर्डर टाइप हुआ, दोपहर बाद उसे रोका और नोटिस देकर जवाब मांगा, इलाज का खर्च प्रशासन उठाएगा

Related Posts