भाजपाइयों ने आइटम सांग्स पर ‘कमलनाथ’ को करवाया सड़क पर डांस, ‘दिग्विजय’ ने उड़ाए जमकर नोट

मध्य प्रदेश में मंत्री इमरती देवी पर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के टिप्पणी किए जाने पर मंगलवार को भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा सड़क पर उतर आया। कलेक्टर चौराहे पर कार्यकर्ताओं ने अनोखे तरीके से विरोध प्रदर्शन किया। कार्यकर्ताओं ने आइटम गर्ल बनकर चौराहे पर डांस करते हुए विरोध जताया। इस दौरान एक कार्यकर्ता ने कमलनाथ का मुखौटा पहनकर डांस किया। वहीं, दूसरे ने दिग्विजय सिंह का मुखौटा लगाकर डांस कर रहे कार्यकर्ता पर रुपए उड़ाए।

विरोध-प्रदर्शन के दौरान एक कार्यकर्ता दिग्विजय सिंह बनकर नोट उड़ाता नजर आया।

भारतीय जनता पार्टी अनुसूचित जाति मोर्चा के अध्यक्ष राजेश शिरोडकर ने कहा कि हमारी संस्कृति इस प्रकार के विरोध की नहीं है, लेकिन यदि कुत्ता काटे तो उसे काटा नहीं जा सकता, लेकिन डंडे से पीटा जरूर जा सकता है। जैसा उन्होंने हमारी प्रदेश की मंत्री इमरती देवी के लिए अशोभनीय टिप्पणी की। उन्हें आइटम कहा। मैं कमलनाथजी से पूछना चाहता हूं कि आपके परिवार के किसी सदस्य को कोई ऐसा कहे तो कैसा लगेगा। इसीलिए हमने कमलनाथ जी को आइटम गर्ल बनाकर यह उन्हें यह एहसास करवाना चाहा है कि यदि आप ऐसी भाषा का प्रयोग करेंगे तो हम उसका पुरजोर विरोध करेंगे। जब तक वे माफी नहीं मांगेंगे, हम विरोध करते रहेंगे।

उन्होंने बताया कि विरोध प्रदर्शन के दौरान महामंत्री संदीप भौजदार सहित सभी नगर उपाध्यक्ष, नगर मंत्री और मंडल अध्यक्ष सहित कार्यकर्ताओं ने कलेक्टर चौराहे पर कमलनाथ (कमलिनी) को आइटम गर्ल बनाकर नचाया गया है। वहीं, दिग्विजय सिंह बने कार्यकर्ता ने उन पर नोट उड़ाया। कार्यकर्ताओं का कहना है कि काेई भी कांग्रेसी यदि इस प्रकार से महिलाओं का अपमान करेगा या महिलाओं के साथ अभद्र व्यवहार करेगा तो अनुसूचित जाति मोर्चा आगे भी उनके खिलाफ इसी प्रकार की अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करता रहेगा। कांग्रेस अभी भी वक्त है, संभल जाए नहीं तो अभी तो वह सिमट गई है, मगर खत्म होने पर भी कोई समय नहीं लगेगा।

क्या है मामला?

रविवार को ग्वालियर जिले की डबरा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी सुरेश राजे के समर्थन में पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ सभा करने पहुंचे थे। उन्होंने यहां भाजपा प्रत्याशी और मंत्री इमरती देवी का नाम लेना तक उचित नहीं समझा। उन्होंने कहा कि हमारे राजे (कांग्रेस प्रत्याशी) तो सीधे-सादे और सरल हैं। ये उसके जैसे नहीं हैं। मैं क्यों उसका नाम लूं। इतने में लोग बोले- इमरती देवी। इस पर हंसते हुए कमलनाथ बोले- आप लोग मेरे से ज्यादा उसको पहचानते हैं। आप लोगों को तो मुझे पहले ही सावधान कर देना चाहिए था। वह क्या आइटम है।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के खिलाफ कलेक्ट्रेट चौराहे डांस कर कार्यकर्ताओं ने विरोध दर्ज करवाया।

Related Posts