Media Pramukh

भोपाल के पीपुल्स अस्पताल में शिक्षक को लगेगा पहला डोज, दोपहर 1 बजे तक 10 लोगों ने कराया रजिस्ट्रेशन

सुमित पांडेय।

मध्यप्रदेश में पहली बार को-वैक्सीन के तीसरे चरण का ट्रायल पीपुल्स अस्पताल भोपाल में शुरू होने जा रहा है। कुछ ही देर में भोपाल के पटेल नगर निवासी शिक्षक को टीका लगाया जाएगा। पहले दिन 100 लोगों को वैक्सीन देने का लक्ष्य है। हालांकि 50 के आसपास लोगों के पहुंचने की उम्मीद अस्पताल प्रशासन को है। वालेंटियर्स पहुंचना शुरू हो गए हैं। बागसेवनिया, कल्पना नगर, भवानी नगर, चूना भट्टी, होशंगाबाद रोड, सबरी नगर खेड़ी खेड़ी भानपुर से लोग पहुंचे हैं।

वॉलेंटियर्स को टीके के बाद 750 रुपए भी प्रदान किए जाएंगे। यह प्रोत्साहन राशि के तौर पर होगी। इसके बाद प्रति सप्ताह इनके स्वास्थ्य की निगरानी भी की जाएगी।

यह भी जानकारी दी गई है कि गर्भवती होने पर महिला को टीका नहीं लगाया जाएगा। अगर आप फैमिली प्लानिंग कर रहे हैं, तो पुरुष को भी टीका नहीं लगेगा। पीपुल्स यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर राजेश कपूर ने बताया हम पूरी तरह तैयार हैं। यह भोपाल के लिए सौभाग्य की बात है। अब तक 10 से ज्यादा रजिस्ट्रेशन हो चुके हैं। इनमें एक महिला भी शामिल है।

कुल एक हजार डोज मिले हैं। पहले डोज के बाद 28 दिन बाद दूसरा डोज दिया जाएगा। किसी भी हेल्थ वर्कर्स को वॉलिंटियर नहीं बनाने की जानकारी मिली है।

पहली बार मिला मौका

कोरोना के खिलाफ दुनियाभर में ट्रायल का दौर है ऐसे में यह पहला मौका है जब भोपाल को तीसरे चरण के ट्रायल के लिए चुना गया है। यहां के गांधी मेडिकल कॉलेज में भी ट्रायल की तैयारी हुई लेकिन अभी वहां डोज नहीं आए हैं।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

ट्रायल की पूरी तैयारी कर ली गई है। पहला डोज कुछ देर मेें दिया जाएगा। वालंटियर से चर्चा करते डॉक्टर।
Exit mobile version