भोपाल में 15 साल की बीमार नाबालिग बेटी से ज्यादती कर रहा था बाप, चीख सुनकर मां ने बचाया

भोपाल में एक पिता ने ऐसा पाप किया जिसकी कोई सजा नहीं हो सकती। उसने अपनी 15 साल की नाबालिग और बीमार बेटी से ना केवल ज्यादती की बल्कि उससे मारपीट भी की। चीख सुनकर मां ने उसे बचाया और थाने जाकर पति के खिलाफ केस दर्ज कराया। बेटी ने बताया- उसके साथ महीनेभर से ज्यादती की जा रही थी। बालिका को ट्यूमर की बीमारी है जिस कारण वह चलने फिरने में असमर्थ है। इसी का फायदा उठाकर आरोपी पिता उससे दुष्कर्म कर रहा था।

वारदात के दौरान मासूम के चीखने पर मां उसके पास पहुंची, तो मामले का खुलासा हुआ। आरोपी ने मां, बेटी और बेटे को धमकाने का प्रयास किया। पति से किसी तरह मुकाबला कर थाने पहुंची मां ने कोलार पुलिस स्टेशन में पति के खिलाफ दुष्कर्म और पॉक्सो एक्ट समेत 12 से अधिक धाराओं में एफआईआर कराई। दंपत्ति बटालियन में नौकरी करते हैं। उसकी मां ने पुलिस को बताया- बीमारी के कारण बेटी एक ही जगह बैठी रहती है। वह और उसका पति बटालियन में नौकरी करते हैं। दोनों अलग-अलग विभाग में हैं। वह किचन में काम कर रही थी। इसी दौरान उसे बेटी के चीखने की आवाज सुनाई दी।

वह हॉल में पहुंची, तो उनकी बेटी सोफे पर बैठी थी और पति उसके गाल को जोर से पकड़े हुए था। बेटी चीख रही थी पापा छोड़ दो ऐसा मत करो। मम्मी को देखते ही मासूम बोली मम्मी पापा से मुझे बचा लो। उसने तत्काल पति से छीनते हुए अपनी बेटी को छुड़ाया। अब तक उनका बेटा भी वहां आ गया थ। उसकी करतूत सामने आने के बाद वह भड़क गया और उसने पत्नी के साथ बेटी और बेटे पर चिल्लाना शुरू कर दिया। उसने उन्हें जान से मारने की धमकी देते हुए कहा कि घर से बाहर नहीं जाने दूंगा। बेटी की बात सुनने के बाद महिला ने रात 12 बजे कोलार थाने पहुंचकर अपने पति के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

कोलार पुलिस ने आरोपी पिता के खिलाफ 12 से अधिक धारों में प्रकरण दर्ज किया है।

Related Posts