महाशिवरात्रि पर करिए महाकाल और ओंकारेश्वर के दर्शन:सुबह के समय हुई भस्मारती, तड़के 2.30 बजे मंदिर के गर्भगृह के पट खोल दिए गए