मुख्यमंत्री को अपने घर में देखकर भावुक हो उठी बुजुर्ग महिला; इंदौर पहुंचे मुख्यमंत्री ने नए साल की बधाई देकर बच्चों को दिए गिफ्ट

नववर्ष के पहले दिन प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान इंदौर में प्रजा का हाल जानने पहुंचे। इंदौर के पंचशील नगर में वे कुछ घरों में पहुंचे। बच्चों और महिलाओं से मिलकर उन्हें न केवल नववर्ष की बधाई दी बल्कि गिफ्ट भी दिए। एक बुजुर्ग महिला मुख्यमंत्री को देखते ही भावुक होकर रो पड़ी। यह महिला पहले भी मुख्यमंत्री से मिल चुकी थी। अपने घर में मुख्यमंत्री को देखकर वह भावुक हो उठी।
मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान नव वर्ष पर इंदौर में गरीबों के बीच पहुंचे और उन्होंने उनके साथ नववर्ष मनाया।

पंचशील नगर के एक घर में बालिका को प्रमाण पत्र दिया गया।

इस दौरान उन्होंने एयरपोर्ट के पास पंचशील नगर में रहने वाले लोगों से मुलाकात की और उनके हालचाल जाने। पंचशील नगर में मौजूद मल्टी के दो फ्लेट में भी गए और वहां पर रहवासियों से मुलाकात कर उन्हें नववर्ष की बधाई दी और उनकी जो समस्या थी उन्हें हल करने का अधिकारियों को आदेश दिया। मुख्यमंत्री शिर्डी से यहां पहुंचे थे। इस दौरान मल्टी में रहने वाले एक व्यक्ति ने अपने बच्चे की बीमारी के बारे में जानकारी दी जिसके बाद उन्होंने अधिकारियों को दिशा निर्देश दिया है कि बच्चे की जो भी बीमारी है उसका इलाज इंदौर के सुपर स्पेशलिस्ट हॉस्पिटल में करवाया जाए और उनकी जो भी समस्या है उसका निदान किया जाए।

बच्चों को गिफ्ट देकर दुलार करते मुख्यमंत्री।

वही मल्टी में मौजूद महिला बुजुर्ग द‌वारका बाई को पैरालिसिस की बीमारी की जब जानकारी मुख्यमंत्री को लगी तो उन्होंने कलेक्टर को उनकी भी बीमारी के इलाज के दिशा निर्देश दिए। बताया जाता है कि यह बुजुर्ग महिला कुछ साल पहले भी मुख्यमंत्री से मिली थी और दोबारा अपने घर में उन्हें देखकर भावुक को उठी। मुलाकात के दौरान उन्होंने घर में मौजूद सदस्यों को नववर्ष की बधाई के साथ ही गिफ्ट भी दिए।दिव्यांगों को ट्राइसिकल भेंट की गई। कुछ बच्चों को पढ़ने के लिए लैपटॉप व अन्य तरह की सामग्री भी मुख्यमंत्री ने दी। मीडिया से बात करते हुए प्रदेश की जनता को नववर्ष की बधाई दी व प्रदेश के विकास की बात कही।

दिव्यांग युवती शुभांगी कांबले को लैपटॉप और ट्राई साइकिल भेंट की। गंभीर बीमारी से पीड़ित आदित्य सावंत को आर्थिक मदद कर सरकार द‌वारा इलाज कराए जाने के आदेश दिए गए। कल्याणी व दीपाली नामक महिलाओं को पेंशन योजना का लाभ दिया। लकवा पीड़ित द्वारका बाई को वृद्ध महिला बीमार पेंशन की तरह सहायता दिए जाने के आदेश दिए गए।
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान लाइट हाउस प्रोजेक्ट के शिलान्यास कार्यक्रम में पहुंचे। कार्यक्रम में प्रदेश के नगरीय प्रशासन एवं आवास मंत्री भूपेंद्र सिंह, राज्य मंत्री ओपीएस भदौरिया, सांसद शकर लालवानी, मंत्री उषा ठाकुर, विधायक महेंद्र हार्डिया, तुलसी सिलावट, आकाश विजयवर्गीय भी मौजूद रहे।

एक घर में मुख्यमंत्री ने चाय भी पी।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

मुख्यमंत्री को देखकर बुजुर्ग ​​​​​​​महिला द‌वारका बाई भावुक होकर रो पड़ी।

Related Posts