विधानसभा सीटों पर उपचुनाव में प्रचार के लिए प्रियंका गांधी का रोड शो होगा; सिंधिया को उनके गढ़ में घेरने के लिए सचिन पायलट भी आएंगे

मध्यप्रदेश में होने वाले उपचुनावों में जीत का परचम फहराने के लिए कांग्रेस एड़ी चोटी का जोर लगा रही है। जहां चुनावों की घोषणा होने के पहले ही कांग्रेस ने जनसंपर्क शुरू कर दिया था, वही सबसे पहले 15 नामों की घोषणा भी कर दी। ग्वालियर-चंबल की 16 सीटों के लिए कांग्रेस सिंधिया को घेरने की रणनीति पर काम कर रही है। इसके लिए प्रियंका गांधी भी कांग्रेसी उम्मीदवारों के लिए प्रचार करती नजर आएंगी। उनका एक रोड शो आयोजित किया जाएगा। इधर भाजपा के लिए प्रदेश में शिवराज सिंह चौहान और ज्योतिरादित्य सिंधिया ही सबसे बड़े चेहरे रहेंगे।

प्रियंका गांधी का संभावित कार्यक्रम

कांग्रेस सूत्रों के अनुसार, प्रियंका गांधी कांग्रेस उम्मीदवारों के लिए प्रचार करेंगी। उनका ध्यान ग्वालियर-चंबल पर रहेगा। चुनाव की तारीखों के ऐलान के बाद सड़क के रास्ते आगरा से धौलपुर होते हुए मध्यप्रदेश पहुंचेगी। यहां से पहले मुरैना आएंगी। इसके बाद अंबाह, दिमनी, मेहगांव, गौहद और ग्वालियर पूर्व में रोड शो करेंगी। इसके अलावा ग्वालियर, डबरा और भांडेर में रोड शो के साथ ही सभाएं भी करेंगी।

सिंधिया को घेरने पायलट का सहारा

मध्य प्रदेश की 28 उपचुनाव सीटों में से 16 ग्वालियर-चंबल से है। ऐसे में कांग्रेस इस क्षेत्र से बागी होकर भाजपा में शामिल हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया को घेरने के लिए कोई मौका नहीं छोड़ रही है। प्रियंका गांधी के साथ ही सचिन पायलट को भी प्रचार के लिए लगाया जाएगा। सचिन ज्योतिरादित्य सिंधिया के सबसे अच्छे दोस्त कहे जाते हैं। राजस्थान में जब सचिन पायलट ने बगावत की थी, तब भी कांग्रेस के कुछ नेताओं ने अंदरखाने सिंधिया पर सचिन को भड़काने के आरोप लगाए थे। हालांकि बाद में सचिन मान गए और पार्टी में वापस आ गए थे।

पहले तल्ख सुर रहे अब सिंधिया को बेकसूर बता रहे

ग्वालियर और चंबल में सिंधिया परिवार का हमेशा से वर्चस्व रहा है। उन पर कांग्रेस छोड़कर भाजपा का दामन थाम कर सरकार गिराने के आरोप लगे हैं। सिंधिया को गद्दार तक कहा गया। इसमें मुख्य रूप से कमलनाथ और दिग्विजय सिंह शामिल रहे हैं। हालांकि गुरुवार को पार्टी के सुर कुछ बदले और उन्होंने कहा ज्योतिरादित्य सिंधिया तो बेकसूर है। इस बयान को इससे देखकर भी लिया जा रहा है कि अब पार्टी में कहीं कोई बगावत न हो।

कांग्रेस में इन चेहरों की मांग

कांग्रेस में मुख्य रूप से प्रियंका गांधी, सचिन पायलट, पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ, और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह मुख्य चेहरे हैं। सबसे ज्यादा डिमांड प्रियंका गांधी और सचिन पायलट की है। इसके अलावा यादव बाहुल्य सीट में अरुण यादव को प्रचार के लिए भेजा जाएगा। सज्जन वर्मा को भी कुछ सीटों पर ले जाया जाएगा। पटेल बाहुल्य क्षेत्र में कमलेश्वर पटेल, साथ ही कुछ जगह पर अजय सिंह और आदिवासी क्षेत्रों की सीट में कांतिलाल भूरिया उम्मीदवार के पक्ष में वोट मांगे।

शिवराज और ज्योतिरादित्य सबसे बड़ा चेहरा

इधर, भाजपा में शिवराज सिंह और ज्योतिरादित्य सिंधिया सबसे बड़ा चेहरा है। इस टीम में नरोत्तम मिश्रा भी साथ रहेंगे। साथ में फग्गन सिंह कुलस्ते, मालवा अंचल में कैलाश विजयवर्गीय, अनूपपुर में राजेंद्र शुक्ला, बुंदेलखंड और लोधी बाहुल्य सीट में उमा भारती उम्मीदवार के पक्ष में प्रचार करती नजर आएंगी।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

मध्यप्रदेश में उपचुनावों की घोषणा होते ही कांग्रेस के लिए प्रियंका गांधी प्रचार करेंगी।- फाइल फोटो

Related Posts