सफाई व्यवस्था में ढिलाई को लेकर लगाई फटकार, बोलीं- कचरे का ढेर पड़ा है, दरोगा को होश नहीं

निगम प्रशासन शहर की सफाई व्यवस्था को लेकर काफी संवेदनशील है। इसकी बानगी धनतेरस के दिन शुक्रवार को देखने को मिली। सुबह निगमायुक्त अचानक सफाई व्यवस्था देखने शहर में निकल गईं। कांकड़ क्षेत्र में सफाईकर्मियों ने सफाई तो कर दी, लेकिन कचरे के ढेर को दरोगा ने नहीं उठवाया। इस पर वे भड़क गईं और मौके पर ही कहा कि दरोगा को कचरा उठवाने का होश ही नहीं है।

निगम आयुक्त प्रतिभा पाल ने धनतेरस पर सुबह से ही शहर की सफाई व्यवस्था को लेकर मोर्चा संभाल लिया। पाल शहर के विभिन्न क्षेत्रों में सफाई व्यवस्था का जायजा लेने पहुंचीं। कई जगह सफाई संतोषजनक नहीं पाए जाने पर निगम आयुक्त पाल ने क्षेत्रीय सीएसआई और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को फटकार लगाई।

श्रीनगर कांकड़ में सफाईकर्मियों द्वारा झाडू तो लगा दी गई, लेकिन कचरे के ढेर को दरोगा द्वारा उठवाया नहीं गया। कचरे के ढेर को देख निगमायुक्त भड़क गई। उन्होंने कहा आखिर वे क्यों एक बार सुबह-शाम सफाई व्यवस्था देखकर नहीं जाते। इसके बाद वहां मौजूद कर्मचारी से उसका नाम पूछा और कहा कि कांकड़ की सफाई देखकर आओ। बता दें कि इंदौर को चौथी बार सफाई में नंबर वन का ताज मिला है।

दिवाली के अगले दिन सुबह 5 बजे होगी सफाई
निगमायुक्त पाल ने सुबह सफाई व्यवस्था को लेकर समीक्षा बैठक की। इस दौरान उन्होंने सख्त लहजे में कहा कि दिवाली के अगले दिन कहीं भी गंदगी नजर नहीं आए। दिवाली के अगले दिन सुबह 5 बजे शहर की सफाई हो, अधिकारी यह सुनिश्चित करें। हर क्षेत्र में कचरा तत्काल उठाया जाए। डोर-टू-डोर कचरा संक्रमण वाहन भी प्रत्येक घर से कचरा उठाएं। जहां ग्रीन वेस्ट नजर आए, उसे भी तत्काल उठा लें। व्यावसायिक क्षेत्र में में सफाई ठीक से हो। दिवाली के अगले दिन सफाई के लिए अतिरिक्त वाहन की जरूरत हो तो वर्कशॉप से बात कर ले लें।

बैठक के बाद निगमायुक्त ने कई क्षेत्रों में पहुंचकर सफाई व्यवस्था देखी। इसमें श्रीनगर एक्सटेंशन, आर्दश नगर, श्री नगर कांकड़, खजराना, गोया रोड, तंजीम नगर, बंगाली कॉलोनी, गांधीग्राम, कर्बला रोड, शकीला महल, दरगाह रोड, कलाई वाला मैदान आदि क्षेत्र शामिल हैं।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

सफाई व्यवस्था देखने पहुंचीं निगमायुक्त ने कई जगह कचरा देख फटकार भी लगाई।

Related Posts