स्मृति शेष:श्याम मुंशी का उर्दू में संचालन सुनकर अभिनेता ओमपुरी उठे, उन्हें गले लगाकर कहा, आपकी जबान से उर्दू कितनी खूबसरत लगती है, आपकी जगह तो बंबई में है…