CR में 50 नंबर से कम वाले कर्मचारियों पर नौकरी का खतरा,  20:50 का फॉर्मूले पर सख्त हुई सरकार

राज्य सरकार एक बार फिर अधिकारियों -कर्मचारियों की परफॉर्मेंस के लिए बनाए गए 20:50 का फॉर्मूले पर सख्त हो गई है। यानि CR नंबर 50 से कम हैं, उन्हें नौकरी से बाहर किया जा सकता है। इसी तरह जो कर्मचारी मेडिकली अनफिट हैं और इलाज के बाद भी अगर बार-बार बीमार पड़ रहे हैं तो उनका 15 दिसंबर के बाद चेकअप कराया जाएगा। ऐसे कर्मचारियों के पास 20 साल की नौकरी के बाद खुद रिटायरमेंट लेने का ऑप्शन दिया गया है। सामान्य प्रशासन विभाग ने सभी विभागों, निगम-मंडलों, संभागीय आयुक्तों और कलेक्टरों को पत्र भेजकर 4 दिसंबर तक जानकारी देने के लिए कहा है।

इससे पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कह चुके हैं कि परफॉर्मेंस के आधार पर ही अधिकारियों व कर्मचारियों की फील्ड पोस्टिंग की जाएगी। मुख्यमंत्री 7 दिसंबर को कलेक्टर-कमिश्नर कॉन्फ्रेंस करने वाले हैं। इससे पहले सामान्य प्रशासन विभाग ऐसे अधिकारियों व कर्मचारियों की जानकारी जुटा रहा है, जो इस नियम के तहत कार्य करने में फिट नही हैं।

सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा विभागों को भेजा गया पत्र

CR गणना करने का नियम

इस नियम के अनुसार गणना करने के लिए अलग-अलग श्रेणियां बनाई गई हैं।

क श्रेणी के 5 नंबर, ख श्रेणी के 4 नंबर, ग श्रेणी के 3 नंबर और घ श्रेणी के 2 नंबर मिलेंगे। यदि किसी कर्मचारी को हर साल क श्रेणी के नंबर मिलते हैं तो 20 साल की सेवा में उसके 100 नंबर हो जाएंगे, यानी कि आगे की उसकी नौकरी पूरी तरह सुरक्षित है। वहीं ग और घ श्रेणी वालों के लिए संकट है।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

राज्य शासन ने अधिकारियों -कर्मचारियों की परफॉर्मेंस के लिए बनाए गए 20:50 का फॉर्मूले के संबंध में सभी विभागों, निगम-मंडलो तथा कलेक्टरों से 4 दिसंबर तक जानकारी मांगी है।

Related Posts