कंगना ने कहा- शिवसेना को मजबूरी में वोट दिया; सच ये कि जिस सीट पर कंगना का वोट पड़ता है, वहां शिवसेना लड़ी ही नहीं

कंगना रनोट ने एक न्यूज चैनल को दिए इंटरव्यू में कहा कि मुझे मुंबई के चुनावों में गठबंधन की वजह से मजबूरी में शिवसेना को वोट देना पड़ा। मैं भाजपा समर्थक हूं और जब मैं वोटिंग मशीन में भाजपा का बटन खोज रही थी तो मुझसे कहा गया कि शिवसेना का बटन दबाना होगा। पर भास्कर ने जब कंगना के बयान पर पड़ताल की तो पता चला कि उनका बयान झूठा है।

कंगना ने क्या कहा?
टाइम्स नाऊ चैनल से इंटरव्यू में कंगना ने कहा- जब मैं बांद्रा में वोट डालने गई थी, मैं वोटिंग मशीन के सामने गई। मैं भाजपा समर्थक हूं और मैं सोच रही थी कि बीजेपी का बटन कहां है। फिर मुझे शिवसेना का बटन दबाना पड़ा। फिर मैंने कहा कि जब मैं भाजपा को वोट देना चाहती हूं। मैं राजनीति नहीं समझती हूं। मुझे इसका अनुभव नहीं है। मुझे नहीं पता कि ये गठबंधन क्यों हुआ, पर ये हुआ। और, मुझे शिवसेना का बटन दबाने पर मजबूर होना पड़ा, क्योंकि बीजेपी का ऑप्शन नहीं था। उनके गठबंधन के चलते उस एरिया के लिए केवल और केवल शिवसेना थी। तो मैंने उन्हें वोट दिया और देखिए उन्होंने मेरे साथ कैसा सलूक किया।

बयान झूठा कैसे?
1.
कंगना विधानसभा चुनाव में बांद्रा वेस्ट और लोकसभा चुनाव में नॉर्थ-सेंट्रल मुंबई सीट के लिए वोट डालती हैं। 2009 से 2019 तक महाराष्ट्र में 3 लोकसभा और 3 विधानसभा चुनाव हुए यानी 6 चुनाव। इनमें से 5 चुनाव भाजपा और शिवसेना ने मिलकर लड़े। केवल 2014 के विधानसभा चुनाव में दोनों पार्टियां आमने-सामने थीं।

2. गठबंधन के तहत विधानसभा और लोकसभा में बांद्रा वेस्ट और मुंबई नॉर्थ-सेंट्रल सीट भाजपा के खाते में आई। यानी, 5 चुनाव में शिवसेना का कैंडिडेट उतरा ही नहीं। ऐसे में कंगना के सामने शिवसेना को वोट देने की मजबूरी कैसे हो सकती है?

3. 2014 के विधानसभा चुनाव में शिवसेना और भाजपा के कैंडिडेट आमने-सामने थे। ऐसे में वोट देने के लिए कंगना के सामने भाजपा का विकल्प भी था, सिर्फ शिवसेना को वोट देने की मजबूरी नहीं।

2009 से 2019 तक हुए चुनावों में भाजपा और शिवसेना ने किसे उतारा

विधानसभा चुनाव (बांद्रा वेस्ट सीट) भाजपा उम्मीदवार शिवसेना उम्मीदवार
2009 आशीष शेलार कोई नहीं
2014 आशीष शेलार विलास चावरी
2019 आशीष शेलार कोई नहीं
लोकसभा चुनाव (मुंबई नॉर्थ-सेंट्रल सीट) भाजपा उम्मीदवार शिवसेना उम्मीदवार
2009 महेश राम जेठमलानी कोई नहीं
2014 पूनम महाजन कोई नहीं
2019 पूनम महाजन कोई नहीं

बयान के झूठा साबित होने पर कंगना ने कैसे रिएक्ट किया?
भास्कर की खबर पर कंगना ने रिप्लाई दिया कि उन्होंने खार वेस्ट के बीपीएम स्कूल में शिवसेना नेता को वोट दिया। फेक न्यूज फैलाना बंद करें।

2012 के बाद कंगना खार वेस्ट में रहने आईं
कंगना का फ्लैट मुंबई के खार वेस्ट में 16वीं रोड पर स्थित डीबी ऑर्किड ब्रीज इमारत में है। इस इमारत का निर्माण 2008 में शुरू हुआ था और फ्लैट के ओनर्स को 2012 में पजेशन दिया गया। कंगना की वोटर आईडी पर इसी अपार्टमेंट का एड्रेस दर्ज है। यह साबित करता है कि कंगना यहां 2012 के बाद ही रहने आईं हैं। खार वेस्ट का यह इलाका बांद्रा पश्चिम विधानसभा में और मुंबई उत्तर-मध्य लोकसभा क्षेत्र में आता है।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

यह तस्वीर अप्रैल 2019 की है जब अभिनेत्री कंगना रनोट बांद्रा के एक स्कूल में वोट डालकर बाहर निकली थीं।

Related Posts