ईकॉमर्स इंडस्ट्री के लिए फेस्टिवल सीजन रहा मस्ती भरा, ऑर्डर वॉल्यूम में 56 पर्सेंट की उछाल

ईकॉमर्स इंडस्ट्री के लिए हालिया फेस्टिवल सीजन मस्ती भरा रहा। उसके ऑर्डर वॉल्यूम में सालाना आधार पर 56 पर्सेंट की उछाल आई। ग्रॉस मर्चेंडाइज वैल्यू (GMV) पिछले साल से 50 पर्सेंट ज्यादा रही। इन बातों का जिक्र यूनिकॉमर्स की तरफ से शुक्रवार को जारी एक रिपोर्ट में है।

दीवाली से पहले के 30 दिनों का विश्लेषण

यूनिकॉमर्स ईकॉमर्स फोकस्ड सॉफ्टवेयर ऐज अ सर्विस यानी SaaS प्लेटफॉर्म है। उसने 2019 और 2020 के त्योहारी महीने के शॉपिंग ट्रेंड का विश्लेषण किया है। एनालिसिस में दीवाली से पहले के 30 दिनों को शामिल किया गया था। इसके लिए 4.4 करोड़ ऑर्डर का सैंपल साइज लिया गया था।

ग्रॉस मर्चेंडाइज वॉल्यूम में 50 पर्सेंट इजाफा

यूनिकॉमर्स की रिपोर्ट के मुताबिक, “पिछले साल के मुकाबले इस दिवाली से पहले के 30 दिन में ईकॉमर्स इंडस्ट्री का ऑर्डर वॉल्यूम लगभग 56 पर्सेंट बढ़ा। इस फेस्टिवल सीजन के दौरान ऑर्डर वॉल्यूम में बढ़ोतरी होने से GMV यानी ग्रॉस मर्चेंडाइज वॉल्यूम में 50 पर्सेंट का इजाफा हुआ।”

नई कैटेगरी में हुई ज्यादा शॉपिंग

यूनिकॉमर्स ने यह भी कहा कि कंज्यूमर्स खरीदारी में वैल्यू को लेकर पहले से ज्यादा जागरूक हो गए हैं और नई-नई कैटेगरी में शॉपिंग करने लगे हैं। GMV बताता है कि ऑनलाइन मार्केटप्लेस में किसी टाइम पीरियड में कुल कितनी कीमत का सामान बिका है।

पर्सनल केयर प्रॉडक्ट्स की सेल्स बढ़ी

पर्सनल केयर और ब्यूटी प्रॉडक्ट्स जैसी नई कैटेगरी की डिमांड और कम दाम के प्रॉडक्ट्स की सेल्स, दोनों में इजाफा हुआ। इसके चलते पिछले साल के फेस्टिव सीजन के मुकाबले इस साल एवरेज ऑर्डर वैल्यू में 4 पर्सेंट की गिरावट आई। रिपोर्ट के मुताबिक, “पहली बार ऑनलाइन खरीदारी करने वालों संख्या और नई कैटेगरी की सेल्स में बढ़ोतरी ईकॉमर्स इंडस्ट्री के लिए शुभ संकेत हैं।”

ब्यूटी और वेलनेस कैटेगरी की भी तेज ग्रोथ

पर्सनल केयर कैटेगरी की सेल्स में पिछले साल के फेस्टिव सीजन के मुकाबले 176 पर्सेंट की उछाल आई। ब्यूटी और वेलनेस तेज ग्रोथ वाली दूसरी कैटेगरी रही। इसके सेल्स ऑर्डर में 52 पर्सेंट का इजाफा हुआ। फैशन और एक्सेसरीज कैटेगरी की ऑर्डर वॉल्यूम ग्रोथ 71 पर्सेंट रही।

इलेक्ट्रॉनिक्स सेगमेंट मेंं ऑफर्स की भरमार

रिपोर्ट के मुताबिक, “सभी मार्केटप्लेस इलेक्ट्रॉनिक्स प्रॉडक्ट्स पर डिस्काउंट और ऑफर्स दे रहे थे। इसके चलते यह सेगमेंट इस साल की भी सीजन सेल्स का सरताज रहा। इस सेगमेंट का ऑर्डर वॉल्यूम पिछले साल के मुकाबले 65 पर्सेंट ज्यादा रहा।”

रिटर्न ऑडर्स पिछले साल से 35 पर्सेंट कम

सेल्स में उछाल के बीच प्रॉडक्ट रिटर्न्स ईकॉमर्स कंपनियों के लिए चिंता का विषय बने रहे। हालांकि ऑटोमेशन और उपभोक्ताओं के बीच बढ़ती जागरूकता से रिटर्न्स में कमी आई है। हालिया फेस्टिव सीजन में रिटर्न ऑडर्स की संख्या पिछले साल से 35 पर्सेंट कम रही। सबसे ज्यादा रिटर्न ऑर्डर्स फैशन और एक्सेसरीज कैटेगरी के रहे।

ब्रांड वेबसाइट्स की डिमांड में तेज उछाल

ब्रांड वेबसाइट्स की कंज्यूमर डिमांड में आई तेज उछाल फेस्टिव सीजन की सबसे दिलचस्प बात रही। यूनिकॉमर्स की रिपोर्ट के मुताबिक, “बड़े ब्रांड अब अपनी वेबसाइट्स के जरिए सामान बेचने पर जोर दे रहे हैं। हालिया फेस्टिव सीजन में उनके ऑर्डर वॉल्यूम में 77 पर्सेंट की उछाल आई जबकि मार्केटप्लेस की वॉल्यूम ग्रोथ 60 पर्सेंट रही।”

सेल्स को डिस्काउंट और ऑफर का सपोर्ट

ब्रांड वेबसाइट को अपना GMV बढ़ाने की कीमत मार्केटप्लेस के मुकाबले ज्यादा डिस्काउंट और ऑफर से चुकानी पड़़ी। हालिया सीजन में इनके GMV में 48 पर्सेंट की बढ़ोतरी हुई जबकि मार्केट प्लेस के GMV में 50 पर्सेंट का इजाफा हुआ।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

Festival season was fun for ecommerce industry, order volume rose 56%

Related Posts