कुल 40.63 करोड़ जनधन बैंक खातों में से 22.44 करोड़ खाते महिलाओं ने खोले, पुरुषों के 18.19 करोड़ खाते

प्रधानमंत्री जनधन योजना (PMJDY) के तहत खोले बैंक खातों में आधे से अधिक खाते महिलाओं के हैं। एक RTI (सूचना का अधिकार) जवाब के मुताबिक 9 सितंबर 2020 तक इस योजना के तहत कुल 40.63 करोड़ खाते खुले थे। इनमें से 22.44 बैंक खाते महिलाओं के और 18.19 करोड़ खाते पुरुषों के हैं।

मध्य प्रदेश के एक्टिविस्ट चंद्र शेखर गौड़ को दिए गए आरटीआई जवाब में हालांकि यह जानकारी नहीं मिल पाई कि महिलाओं और पुरुषों के खातों में कुल कितनी-कितनी रकम जमा है। 9 सितंबर 2020 को 3.01 करोड़ खातों में कोई रकम जमा नहीं थी। जीरो बैलेंस वाले इन खातों में भी पुरुषों और महिलाओं के अलग-अलग खातों की संख्या की जानकारी नहीं मिली।

इस कारोबारी साल में 9 सितंबर तक जनधन खातों में जमा राशि 8.5% बढ़ी

वित्त मंत्रालय ने जवाब में कहा कि इस कारोबारी साल में सितंबर के शुरू तक जनधन खातों में जमा राशि 8.5 फीसदी बढ़कर 1.30 लाख करोड़ हो गई। 1 अप्रैल 2020 को इन खातों में 1,19,680.86 करोड़ रुपए जमा थे। 9 सितंबर 2020 को ये 8.5 फीसदी की बढ़ोतरी के साथ 1,29,811.06 करोड़ रुपए हा गए।

7 अक्टूबर तक 40.98 करोड़ जनधन खातों में 1,30,360.53 करोड़ रुपए जमा थे

सरकारी वेबसाइट pmjdy.gov.in के ताजा आंकड़ों के मुताबिक 7 अक्टूबर 2020 तक 40.98 करोड़ जनधन खाते थे और इन खातों में 1,30,360.53 करोड़ रुपए जमा थे। सरकारी बैंकों ने 32.48 करोड़ जनधन खाते खोले हैं, जिनमें 1,00,869.65 करोड़ रुपए जमा हैं। क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों के 7.24 करोड़ खातों में 25,509.05 करोड़ रुपए और निजी बैंकों के 1.27 करोड़ खातों में 3,981.83 करोड़ रुपए जमा हैं।

अगस्त 2014 में शुरू हुई थी जनधन योजना

PMJDY अगस्त 2014 में शुरू हुई थी। योजना के तहत हर परिवार से एक खाता खोलने का लक्ष्य रखा गया है। इन खातों में 10,000 रुपए की ओवरड्राफ्ट सुविधा मिलती है।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

9 सितंबर 2020 को 3.01 करोड़ खातों में कोई रकम जमा नहीं थी

Related Posts