डीजल की बिक्री लॉकडाउन के बाद पहली बार प्री-कोविड लेवल से ज्यादा, अक्टूबर के पहले 15 दिनों में 9% बढ़कर 26.5 लाख टन पर पहुंची

प्रमुख वाहन ईंधन डीजल पर फेस्टिव सीजन का असर दिख रहा है। लॉकडाउन के बाद पहली बार देश में डीजल की बिक्री ने प्री-कोविड लेवल को पार किया। आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक अक्टूबर के पहले पखवाड़े (15 दिन) में डीजल की बिक्री पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले 9 फीसदी बढ़कर 26.5 लाख टन की हुई।

अक्टूबर की बिक्री सितंबर के मुकाबले करीब 25 फीसदी ज्यादा है। देशव्यापी लॉकडाउन लगने के बाद तेल मार्केटिंग कंपनियों की ईंधन बिक्री अप्रैल में करीब 60 फीसदी घट गई थी। लॉकडाउन हटने के बाद जून से बिक्री में बढ़ोतरी में सुधार होना शुरू हुआ था।

फेस्टिव सीजन से पहले ट्रांसपोर्ट गतिविधियां बढ़ने से ईंधन की बिक्री बढ़ी

फेस्टिव सीजन से पहले ट्रांसपोर्ट गतिविधियों में बढ़ोतरी होने के कारण डीजल की बिक्री बढ़ी है। देशभर में नवरात्र के साथ ही शनिवार से त्योहारों का सीजन शुरू हो गया। यह दिवाली और क्रिसमस तक चलेगा।

पेट्रोल की बिक्री पहले ही बढ़ने लगी थी

पेट्रोल की बिक्री अनलॉक शुरू होने के बाद पहले ही बढ़ने लगी थी। अक्टूबर के पहले 15 दिनों में पेट्र्रोल की बिक्री 1.5 फीसदी बढ़कर करीब 10 लाख टन दर्ज की गई।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

देशभर में नवरात्र के साथ ही शनिवार से त्योहारों का सीजन शुरू हो गया, यह दिवाली और क्रिसमस तक चलेगा

Related Posts