भारतीयों को पसंद नहीं चीन का बना सामान; इस साल त्यौहारी सीजन में चाइनीज प्रोडक्ट के प्रति कम दिखा इंटरेस्ट

इस साल त्यौहारी खरीद के दौरान भारतीय ग्राहकों में ‘चीन का बना’ वस्तुओं के प्रति रुझान में गिरावट देखी गई। मात्र 29 प्रतिशत लोगों ने ही चीन में निर्मित वस्तुओं को लेकर बाजार में पूछताछ की। ऑनलाइन मंच लोकलसर्किल्स के सर्वेक्षण के अनुसार पिछले साल बाजार में करीब 48 प्रतिशत लोगों ने त्यौहारी सीजन के दौरान चीनी उत्पादों को लेकर पूछताछ की थी।

कंपनी ने 14000 से अधिक लोगों के बीच यह सर्वेक्षण किया है। पिछले साल भी लोगों से लगभग समान सवाल करके सर्वेक्षण के निष्कर्ष निकाले गए थे। कंपनी के संस्थापक और चेयरमैन सचिन तापड़िया ने एक बयान में कहा कि नवंबर 2019 में ग्राहकों से समान सवाल किए गए थे और 48 प्रतिशत उपभोक्ताओं ने त्यौहारी मौसम में चीनी उत्पाद खरीदने की बात कही थी। इस साल यह आंकड़ा घटकर 29 प्रतिशत रह गया।
सालाना आधार पर देखा जाए तो यह 40 प्रतिशत की गिरावट है। इन 29 प्रतिशत में से 71 प्रतिशत ने कहा कि उन्होंने इस बार कोई जान बूझ कर या अपना मन बनाकर चीन विनिर्मित माल नहीं खरीदा। लेकिन 66 प्रतिशत ने यह जरूरी करा कि वे कम पैसे में खरीदारी करना चाहते थे इसलिए उन्होंने चीन का माल ले लिया।

यह सर्वेक्षण देश के 204 शहरों में 10 से 15 नवंबर के बीच किया गया। इस साल जून में पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर चीनी फौजों की घुस-पैठ रोकने के दौरान संघर्ष में 20 भारतीय सैनिकों के वीरगति प्राप्त होने के बाद से भारत में चीन विरोधी भावना जगी है।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

Indians do not like Chinese goods; This year the festive season showed less interest towards Chinese product

Related Posts