शेयरधारकों ने 9,500 करोड़ के बायबैक को मंजूरी दी, कंपनी 400 रुपए प्रत्येक की दर से शेयर खरीदेगी

IT सेवा कंपनी विप्रो ने मंगलवार को कहा कि उसके शेयरधारकों ने उसके 9,500 करोड़ रुपए तक के शेयर बायबैक प्लान को मंजूरी दे दी है। विप्रो के बोर्ड ने पिछले महीने बायबैक के प्रस्ताव को मंजूरी दी थी। बायबैक योजना के तहत कंपनी 400 रुपए प्रति शेयर की दर से अधिकतम 23.75 करोड़ शेयर खरीदेगी, जिसपर 9,500 करोड़ रुपए तक का खर्च आएगा।

कंपनी ने मंगलवार को शेयर बाजारों को दी गई सूचना में कहा कि शेयरधारकों ने रिमोट ई-वोटिंग प्रक्रिया से पोस्टल बैलेट के जरिए जरूरी बहुमत के साथ प्रस्ताव को मंजूरी दे दी। वोटिंग 18 अक्टूबर को शुरू हुआ था और यह 16 नवंबर को समाप्त हुआ। 99.78 फीसदी वोट बायबैक ऑफर के पक्ष में पड़े।

प्रस्ताव के पक्ष में प्रमोटर्स के 100% वोट पड़े

प्रस्ताव के पक्ष में प्रमोटर्स के 100 फीसदी वोट पड़े। पब्लिक इंस्टीट्यूशनल शेयरधारकों के 98.73 फीसदी वोट प्रस्ताव के पक्ष में पड़े, जबकि पब्लिक नॉन-इंस्टीट्यूशनल शेयरधारकों के 98.49 फीसदी वोट प्रस्ताव के पक्ष में पड़े। गौरतलब है कि IT सेक्टर में देश की सबसे बड़ी कंपनी टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (TCS) ने भी 3,000 रुपए प्रति शेयर की दर से 16,000 करोड़ रुपए के बायबैक का प्रस्ताव रखा है।

पिछले साल भी विप्रो ने करीब 10,500 करोड़ रुपए का बायबैक कार्यक्रम लाया था

पिछले साल भी विप्रो ने करीब 10,500 करोड़ रुपए का बायबैक कार्यक्रम लाया था। इसके तहत 325 रुपए प्रति शेयर की दर से 32.31 करोड़ शेयर खरीदने की योजना थी। इससे भी पहले विप्रो 2017 में 11,000 करोड़ रुपए और 2016 में 2,500 करोड़ रुपए के बायबैक की घोषणा की थी।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

शेयरधारकों ने रिमोट ई-वोटिंग प्रक्रिया से पोस्टल बैलेट के जरिए जरूरी बहुमत के साथ प्रस्ताव को मंजूरी दे दी, वोटिंग 18 अक्टूबर को शुरू हुआ था और यह 16 नवंबर को समाप्त हुआ

Related Posts